Friday, August 9, 2019

व्लॉग क्या होता है ? व्लॉग कैसे बनाएं ?

व्लॉग क्या होता है ?

जब कोई जानकारी वीडियो के माध्यम से लोगो तक पहुंचाई जाती है तो उसको व्लॉग बोलते हैं। व्लॉग में एक व्यक्ति किसी भी कैमरा के माध्यम से अपनी खुद की वीडियो बनाता है और किसी भी प्रकार की जानकारी साझा करता है, उसे व्लॉगिंग बोलते हैं।



व्लॉगिंग कोई भी व्यक्ति कर सकता है, इसके लिए आपको कोई ज्यादा चीज़ों की जरुरत नहीं है, इसके लिए सबसे जरुरी चीज़ जो आपके पास होनी चाहिए वो है, समझ।  अगर आप अपने ज्ञान को किसी दुसरे व्यक्ति को समझाने की समझ रखते हैं तो आप बहुत अच्छी तरह से व्लॉगिंग कर सकते हैं। उदहारण के लिए अध्यापक वही बन सकता है पढ़ाना जानता हो। अगर वो पढ़ाना नहीं जानता है तो अध्यापक भी नहीं बन सकता। 


व्लॉग क्या होता है ? व्लॉग कैसे बनाएं ?
व्लॉग कैसे शुरू करें ? 
ठीक यही चीज़ व्लॉगिंग में भी होती है कि आप जो ज्ञान वीडियो के माध्यम से बताना चाहा रहे हैं वो देखने वाले को अच्छा लग रहा है या नहीं इस बात से भी व्लॉगिंग प्रभावित होती है। अगर आपकी जानकारी जो आप देना चाहते हो वो ठीक तरीके से उस तक नहीं पहुँच पा रही है तो वो आपको देखना छोड़ देंगे।



आप भी कभी-कभी जब बोर हो जाते हो तो यूट्यूब पर वीडियोस देखते होंगे, आप केवल उन्ही वीडियोस को पसंद करते हैं या उनको पूरा देखते हैं जो सच में आपको अच्छी लगती हैं। बाकियों को आप देखते ही नहीं है, ठीक वैसे भी व्लॉगिंग भी है।

व्लॉग किस विषय पर बनाएं ?

यूट्यूब पर व्लॉग बनाकर अपलोड करने के लिए विषयों की संख्या नहीं है। अगर आपने अपना विषय पहले से सोच कर रखा हुआ है तो ये बहुत अच्छी बात है और यदि आपको आपका विषय अभी तक नहीं मिला है तो आपके सामने बहुत सारे विकल्प हैं। उदाहरण के लिए :- कुछ लोगो को खाने का बहुत शौंक होता है और वो हर रोज कुछ ना कुछ नया खाने के लिए उत्साहित रहते हैं, तो अगर आपको भी लगता है की ये गुण आपमें भी हैं तो आप भी अपने अनुभव को वीडियो के माध्यम से लोगो तक पहुँचा सकते हो। यदि आपको घूमने का शौंक है तो आप अपने सफर के बारे में लोगो को एक स्टोरी की तरह बता सकते हैं। ये कुछ उदाहरण इसलिए थे जिससे आपको ये पता चल सके की आपको किस विषय पर व्लॉग शुरू करना है।  



व्लॉगिंग कैसे करें ?

जैसा की मैंने बताया कि व्लॉगिंग आप तभी कर सकते हैं जब आपको अपनी बात को बताना आता हो। व्लॉगिंग के लिए सबसे जरुरी चीज़ है आपको अपनी शर्म छोड़नी होगी वार्ना दुनिया आपको कुछ करने ही नहीं देगी। मतलब आपको अकेले में बोलना आना चाहिए आपने भावों को अपनी बातों के माध्यम से प्रकट करना आना चाहिए। यहाँ अकेले में बोलने का मतलब ये है कि आप यहाँ पर किसी इंसान को अपनी बात नहीं बता रहे हैं बल्कि एक कैमरा के सामने बोल रहे हैं। तो ये व्लॉगिंग करने के लिए सबसे अनिवार्य बात है जो आपको आनी ही चाहिए। अब बात करते हैं की व्लॉग बनाने के लिए कौन-कौन सी वस्तुएँ आपके पास होनी आवश्यक हैं।



व्लॉगिंग के लिए कैमरा कैसा होना चाहिए ?

व्लॉगिंग का नाम आते ही सबसे पहले जो बात ज़हन में आती है वो है, कैमरा।  जब कभी व्लॉगिंग की बात आये तो कैमरा की टेंशन लेना भूल जाईये वार्ना 90% लोग वहीं व्लॉगिंग छोड़ देंगे। क्योंकि सबका एक ही मानना है की बिना कैमरा के कुछ नहीं हैं और एक अच्छे कैमरा के लिए कम से कम 30-40 हजार तो जेब में होने चाहिए और वो है नहीं। अब मैं क्या करूँ ? तो मेरे भाई आपकी ये टेंशन बिलकुल घटिया किस्म की है। अगर आप यूट्यूब का प्रयोग वीडियो देखने के लिए करते हो तो आपने कई सारे यूटुबर्स के नाम सुने होंगें जो बहुत फेमस होने के बाद भी मोबाइल से वीडियो बनाते हैं और भुवन बाम इनमें से एक हैं।  तो जरा सोचिये जब वो आज भी फ़ोन से ही वीडियो बना रहे हैं तो आप कैमरा के बारे में सोच-सोच कर परेशान क्यों हैं।  आज कल मोबाइल में भी बहुत बढ़िया कैमरा आते हैं जिनसे आप बहुत अच्छी तरह से व्लॉगिंग कर सकते हैं। तो आपको कैमरा की टेंशन नहीं लेनी है, मोबाइल से ही शूट करना है।


व्लॉग को एडिट करने के लिए कौन सा सॉफ्टवेयर प्रयोग करें ?

अगर आपके पास लैपटॉप है तो बहुत अच्छी बात है और अगर नहीं है तो भी कोई समस्या नहीं है। अगर आप एक न्यू व्लॉगर हैं तो मैं आपको सलहा दूँगा की आप प्रारंभ में अपने मोबाइल से ही वीडियो को एडिट कीजिये, पर आप चाहें तो लैपटॉप का प्रयोग कर सकते हैं। 

अगर आप लैपटॉप का प्रयोग कर रहे हैं तो आप iMovie या फिर Filmora का प्रयोग कर सकते हो क्योंकि इनके फ्री पैक आपको मिल जाते हैं और ये शुरआती तौर पर एडिटिंग करने के लिए बहुत अच्छा है। परन्तु अगर आपके पास लैपटॉप नहीं है और आपको मोबाइल से एडिटिंग करनी है तो आप Power Director के फ्री पैक का प्रयोग कर सकते हैं। 



व्लॉगिंग करने के दौरान ध्यान रखने योग्य बातें !


1. किसी भी शॉपिंग मॉल में प्रवेश करने से पहले ये पता कर लें कि कहीं मॉल के अंदर कैमरा लाना वर्जित तो नहीं है। कुछ मॉल एवं दुकानों में कैमरा लाना वर्जित होता है। 

2. कभी किसी ऐसे व्यक्ति (पुरुष या महिला जिसको आप जानते ना हों) को अपनी वीडियो में लाने से पहले उसकी अनुमति ले लें। अगर आपने बिना उसकी इच्छा के ऐसा किया और उसको ये बात सही नहीं लगी तो वो आपके ऊपर मुकदमा कर सकता है, तो इस बात का विशेष ध्यान रखें। 

3. वाहन चलाते वक्त व्लॉगिंग ना करें। कुछ व्लॉगर (मोटो व्लॉगर) बाइक चलते वक़्त वीडियो बनाते हैं क्योंकि कैमरा उनकी हेलमेट में फिट रहता है।  



अगर आप भी व्लॉगिंग की शुरुआत करना चाहते हैं तो सोचिये मत कैमरा उठाइये और काम पर लग जाईये। तो उम्मीद है की इस जानकारी से आपकी बहुत सहायता हुई होगी, यदि हाँ तो आप हमे कमेंट के माध्यम से जरूर बताइये। और ये भी बताइये की आपको व्लॉगिंग करते समय किन-किन समस्याओं का सामना किया।       

2 comments:
Write comment